Prerana ATC | Fight Trafficking

search

महामारी की शुरुआत के बाद से बाल देखभाल संस्थानों में 721 बालक हुए कोरोना संक्रमित

तारीख: 22 अगस्त, 2021
स्रोत (Source): अमर उजाला

तस्वीर स्रोत : अमर उजाला

स्थान : नई दिल्ली

देश के 11 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में स्थित बाल देखभाल संस्थानों में अभी तक 721 बालक कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं. हालांकि, इनमें से किसी की भी इस बीमारी के चलते मौत नहीं हुई है. यह जानकारी देश के शीर्ष बाल अधिकार निकाय ने एक आरटीआई के जवाब में दी डाटा में सामने आई है. सूचना के अधिकार (आरटीआई) के तहत पूछे गए एक सवाल के जवाब में राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) ने बताया कि इस साल ऐसे बाल देखभाल संस्थानों में मौजूद 686 बालक कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं

बता दें कि यह आरटीआई समाचार एजेंसी पीटीआई की ओर से दाखिल की गई थीसवाल के जवाब में एनसीपीसीआर ने जो डाटा साझा किया है वह बताता है कि पिछले साल 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में से केवल उत्तर प्रदेश ही एक ऐसा राज्य था जहां बाल देखभाल संस्थानों में बालकों में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले सामने आए थे. उत्तर प्रदेश में यह संख्या 35 थी. वहीं, इस साल उत्तर प्रदेश के संस्थानों में कोरोना संक्रमण का एक भी मामला सामने नहीं आया है. डाटा के अनुसार बाल देखभाल संस्थानों में रहने वाले कोरोना वायरस संक्रमित किसी भी बालक की मौत नहीं हुई है. उल्लेखनीय है कि ऐसे संस्थानों में सबसे ज्यादा संक्रमण के मामले हरियाणा में सामने आए हैं. यहां यह संख्या 288 है.

वहीं, हरियाणा के बाद तमिलनाडु (149) और बिहार (131) हैं. डाटा के अनुसार, बाल देखभाल संस्थानों में मिलने वाले कोरोना वायरस संक्रमित बालकों की संख्या मिजोरम में 46, कर्नाटक में 37, दिल्ली में 19, तेलंगाना में सात, गुजरात में छह और चंडीगढ़ में तीन है. वहीं, अंडमान निकोबार द्वीप समूह से बाल देखभाल संस्थानों में कोरोना वायरस संक्रमण का कोई मामला सामने नहीं आया है. डाटा के अनुसार इन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में बाल देखभाल संस्थानों की संख्या 857 है. जून में महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने राज्यों से ऐसे संस्थानों में कोविड संक्रमित बालकों के इलाज के लिए उचित तैयारियां करने को कहा था.

अमर उजाला की इस खबर को पढ़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें.

अन्य महत्वपूर्ण खबरें

Copy link
Powered by Social Snap