Prerana ATC | Fight Trafficking

search

मदद मांगने आई युवती का किया लैंगिक शोषण, CWC के पूर्व अध्यक्ष की तलाश में प्रयागराज पुलिस

तारीख: 28 अक्टूबर, 2021
स्रोत (Source): जागरण

तस्वीर स्रोत : जागरण

स्थान : उत्तर प्रदेश

बालकों के कल्याण के लिए गठित बाल कल्याण समिति (CWC) के पूर्व अध्यक्ष कमलेश सिंह पर एक युवती के लैंगिक शोषण का आरोप लगने के बाद कोतवाली पुलिस मुकदमा लिखकर उनकी तलाश में छापेमारी कर रही है. आरोप है कि यह युवती पति से अलगाव के बाद अपनी बेटी को पाने के लिए समिति के पूर्व अध्यक्ष के पास सहायता के लिए पहुंची तभी उसे झांसा देकर अलग-अलग स्थानों पर ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया गया. पुलिस मुकदमा लिखकर फरार आरोपित कमलेश को खोज रही है.

कमलेश सिंह बाल कल्याण समिति के कुछ महीने पहले तक अध्यक्ष रहे हैं. मूल रूप से हंडिया निवासी कमलेश का हाल पता झूंसी बताया गया है. सीडब्लूडी का दफ्तर राजकीय बाल सुधार गृह परिसर में है. दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली युवती कौशांबी जनपद की रहने वाली है. युवती ने बताया कि उसका अपने पति से विवाद हो गया था. पति छह साल की बेटी को लेकर अलग रहने लगा. उसने बेटी को पति के कब्जे से छुडा़कर अपने पास लाने की कोशिश की तो उसे सलाह दी गई कि वह सीडब्लूसी यानी बाल कल्याण समिति के सामने अपनी समस्या रखे तो जरूर कुछ हो सकता है. युवती का कहना है कि कुछ महीने पहले वह शहर आकर सीडब्लूसी के तत्कालीन अध्यक्ष कमलेश से मिली तो वह उसे बातों में उलझाकर लैंगिक उत्पीड़न करने लगे. उसे पति से बेटी वापस दिलाने और मुकदमे का पूरा खर्च भी उठाने का भरोसा देकर शहर में अलग-अलग जगह पर कमरों में ले जाकर शारीरिक शोषण किया.

युवती ने पुलिस को बताया कि कमलेश उसे शहर के जार्जटाउन, दारागंज चुंगी, सिविल लाइंस इलाके में कमरों में ले गए. आखिर में बहादुरगंज मोहल्ले में एक मकान में ठहराकर नियमित तौर पर आने लगे. मनमानी करने के बाद कमलेश दूरी बनाने लगे और उन्हें बेटी वापस नहीं दिलाई तो वह उन्हें फोन करने लगी.

 

जागरण की इस खबर को पढ़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें.

अन्य महत्वपूर्ण खबरें

Copy link
Powered by Social Snap