Prerana ATC | Fight Trafficking

search

जमशेदपुर में मदर टेरेसा ट्रस्ट के संस्थापक पर नाबालिगों ने लगाया लैंगिक शोषण का आरोप

तारीख: 13 जून, 2021
स्रोत (Source): न्यूज 18 हिंदी

तस्वीर स्रोत: न्यूज 18 हिंदी

स्थान: झारखंड

लौहनगरी जमशेदपुर के टेल्को इलाके में स्थित मदर टेरेसा वेलफेयर ट्रस्ट से 5 दिन पहले दो नाबालिग बालिकाएं फरार हो गईं. टेल्को पुलिस ने दोनों बालिकाओं को खोज निकाला, लेकिन पूछताछ में उन्होंने जो बताया, इससे मामला गरमा गया है. दोनों बालिकाओं ने मदर टेरेसा वेलफेयर ट्रस्ट के संस्थापक हरपाल सिंह थापर, उनकी पत्नी पुष्पा तिर्की और वार्डेन गीता देवी पर लैंगिक शोषण और बाल मजदूरी का आरोप लगाया है. आरोपी पुष्पा तिर्की खुद जिला बाल कल्याण समिति की चेयरमैन है. 

केस दर्ज होने के बाद से हरपाल सिंह, पुष्पा तिर्की और वार्डन गीता देवी फरार हैं. वहीं प्रशासन ने 11 सदस्यीय टीम गठित कर मामले की जांच तेज कर दी. जांच टीम में 5 महिला अधिकारी भी शामिल हैं. घटना सामने आने के बाद मदर टेरेसा वेलफेयर ट्रस्ट के 40 बालकों को पटमदा सेफ हाउस में ट्रांसफर कर दिया गया है. शिफ्टिंग के दौरान पुलिस को पता लगा कि दो बालिकाएं और लापता हैं. 

पुलिस द्वारा लगातार छापामारी की जा रही है. जल्द ही इन दोनों बालिकाओं को भी खोज लिया जाएगा. वहीं दोनों पीड़ित बालिकाओं को बाल कल्याण समिति सराईकेला में पूरी सिक्योरिटी साथ रखा गया है. बाल कल्याण समिति की टीम भी ट्रस्ट का दौरा कर चुकी है. मदर टेरेसा वेलफेयर ट्रस्ट के पड़ोस में रहने वाले अमित कुमार का कहना है कि हरपाल सिंह का आचरण सही नहीं है. वह ट्रस्ट में रहने वाले बालकों से कम करवाता है. आरोपी हरपाल सिंह और उनकी पत्नी पुष्पा तिर्की आए दिन लोगों को धमकाते रहते हैं. 

          

          न्यूज18 हिंदी की इस खबर को पढ़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें

अन्य महत्वपूर्ण खबरें

Copy link
Powered by Social Snap