Prerana ATC | Fight Trafficking

search

ब्लॉग

Regional Blog
TeamATC
लैंगिक अपराधों के लिए ट्रायल से पहले (प्री-ट्रायल) की प्रक्रियाएं – कैसे ये प्रक्रियाएं बालक हितैषी हो सकती हैं?

पिछले तीन दशकों से प्रेरणा ने रेडलाइट एरिया के बालकों को सहायता प्रदान करने की दिशा में कार्य किया है. इस दौरान प्रेरणा की टीम ने यह अनुभव किया है कि कई मामलों में बालक की लैंगिक पहचान, उसके विकास में सबसे बड़ी बाधा बन जाती है. इस संबंध में लोगों को जागरूक करने के लिए प्रेरणा ने एक ब्लॉग तैयार किया है.

अधिक पढ़ें »
Regional Blog
TeamATC
किशोर न्याय प्रणाली में लैंगिक पहचान खोज रहे बालकों को सहारा देना

पिछले तीन दशकों से प्रेरणा ने रेडलाइट एरिया के बालकों को सहायता प्रदान करने की दिशा में कार्य किया है. इस दौरान प्रेरणा की टीम ने यह अनुभव किया है कि कई मामलों में बालक की लैंगिक पहचान, उसके विकास में सबसे बड़ी बाधा बन जाती है. इस संबंध में लोगों को जागरूक करने के लिए प्रेरणा ने एक ब्लॉग तैयार किया है.

अधिक पढ़ें »
Regional Blog
TeamATC
ट्रेनिंग से सीखे काम करने के सबसे सही तरीके

बाजारू लैंगिक शोषण की पीड़िताओं व बाल लैंगिक शोषण के पीड़ितों का जीवन बेहतर करने के क्रम में प्रेरणा पिछले 30 वर्षों के अधिक समय से प्रयासरत है. इस दौरान जमीनी स्तर पर काम करते हुए प्रेरणा की टीम को कई तरह के अनुभव व सीख प्राप्त हुईं, जिन्हें किसी केस में ज़्यादा अच्छे परिणाम पाने के लिए धीरे-धीरे बेस्ट प्रैक्टिसेस यानी सबसे सही तरीकों के रूप में इस्तेमाल किया जाने लगा. प्रेरणा की टीम, इन सीख व अनुभवों को अपने तक न सीमित रखते हुए विभिन्न ट्रेंनिग के माध्यम से संबंधित क्षेत्र में काम करने वाली अन्य संस्थाओं व केस वर्कर्स के साथ लगातार साझा कर रही है

अधिक पढ़ें »
Regional Blog
TeamATC
एक कठिन पुनर्वासन

बाजारू लैंगिक शोषण के पीड़ितों का जीवन बेहतर करने की दिशा में प्रेरणा ने निरंतर तीन दशकों से कार्य किया है. इस दौरान प्रेरणा के सदस्यों ने अनुभव किया है कि कई मामलों में परिवार के साथ किसी पीड़ित को फिर से स्थापित करने में विभिन्न प्रकार की चुनौतियाँ आती है. संबंधित क्षेत्र से जुड़कर कार्य करने वाले हितधारकों के लिए इसी मुद्दे पर प्रकाश डालते हुए प्रेरणा ने एक दस्तावेज तैयार किया है. यह दस्तावेज संबंधित विषय में हितधारकों का ज्ञान बढ़ाने की क्षमता रखता है.

अधिक पढ़ें »
Regional Blog
TeamATC
माता-पिता के लिए बालकों के साथ संवेदनशील संवाद करने की गाइड

प्रेरणा पिछले तीन दशकों से लैंगिक शोषण के पीड़ित बालकों के जीवन को एक बेहतर दिशा देने की ओर काम कर रही है. इस दौरान यह अनुभव किया गया कि पीड़ित बालकों के साथ-साथ सामान्य बालक भी बेहद संवेदनशील होते हैं. इसी के आधार पर हमारी संस्था की एक काउंसलर ने एक सत्र के अनुभव को इस दस्तावेज में साझा किया है, जिसमें बताया गया है कि कैसे हम विभिन्न परिस्थितियों में बालक के साथ प्रभावी रूप से बात कर सकते हैं और बालक को सहज महसूस करा सकते हैं. यह दस्तावेज सभी माता-पिता और बालकों के साथ करीब से कार्य करने वाले हितधारकों के लिए बेहद महत्वपूर्ण साबित हो सकता है.

अधिक पढ़ें »
Regional Blog
TeamATC
महामारी के बीच रेड-लाइट एरिया में काम करने के कुछ अनुभव

मार्च, 2020 में कोरोना के कारण लगे लॉकडाउन ने हरेक नागरिक के जीवन को बुरी तरह से प्रभावित किया, इसका प्रभाव वेश्याव्यवसाय में शामिल महिलाओं के परिवारों पर भी व्यापक रहा. प्रेरणा ने संकट की घड़ी में इस समुदाय के लोगों तक राहत सामग्री पहुंचाने का प्रयास किया है. इसी प्रयास को साकार करने में जुटे केस वर्कर ने अपने एक दिन के संघर्ष को शब्दों में बयाँ किया है. यह पोस्ट रेडलाइट एरिया में कार्य करने के अनुभव पर प्रकाश डालता है. संबंधित क्षेत्र से जुड़कर कार्य करने वाले हितधारकों के लिए यह ब्लॉग बेहद लाभकारी साबित होगा.

अधिक पढ़ें »
Regional Blog
TeamATC
शादी में सीमित मेहमानों को बुलाने के फैसले को गरीब तबके ने एक अवसर समझा, लॉकडाउन में तेजी से बढ़े बाल-विवाह के मामले

Arjun Singh Project Coordinator बाल विवाह की प्रथा हमारे समाज में सदियों से चली आ रही है, जहां माता-पिता अपने 18 वर्ष से छोटे बालक

अधिक पढ़ें »
Regional Blog
TeamATC
कोविड काल में उपेक्षित महिलाओं तक मदद पहुंचाने वाले श्रीमान कैलाश पगारे का साक्षात्कार

कोविड-19 काल के दौरान रेड लाइट एरिया की महिलाओं तक बुनियादी सेवाएं पहुंचाने में आईएएस कैलाश पगारे की महत्वपूर्ण भूमिका को देखते हुए हमने उनका साक्षात्कार किया है. इस साक्षात्कार में उन्होंने उपेक्षित वर्ग तक सुविधाएं पहुंचाने के क्रम में आने वाली चुनौतियों व अपने अनुभव को साझा किया है. आप उनके कार्य, योजनाओं व कर्तव्य परायणता को बेहतर तरीके समझने के लिए इस साक्षात्कार को पढ़ सकते हैं.

अधिक पढ़ें »
Regional Blog
TeamATC
कोविड-19 प्रेरित लॉकडाउन में गहराया बाल विवाह का संकट

कोविड-19 प्रेरित लॉकडाउन का प्रभाव समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग पर अधिक देखने को मिला है. प्रेरणा के सन्मान प्रोजेक्ट पर काम करने वाली हसीना शेख ने इस वर्ग में लॉकडाउन के दौरान बाल विवाह के मामलों में बढ़ोतरी को महसूस किया. इस लेख में उन्होंने एक ऐसे ही बच्ची के बाल विवाह के केस को लेकर अपना अनुभव साझा किया है.

अधिक पढ़ें »
Copy link
Powered by Social Snap